kukrukoo
A popular national news portal

Car Loan Tips : इन बातों का रखें ख्याल, नहीं तो पड़ेगा महंगा

Car Loan Tips : भारत में अपनी कार को खरीदनें का सपना पहले लोग अक्सर देखा करते थे। लेकिन फाइनेंस विकल्प ने इस सपने को ना सिर्फ आसान किया बल्कि सुविधाजनक भी बनाया। आज भारत में सभी प्रमुख निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक बहुत आसानी से कम ब्याज दरों पर कार लोन प्रदान करते हैं। हालांकि, मार्केट में इतने सारे विकल्प उपलब्ध होने के कारण लोने लेने वाले व्यक्ति को भ्रम हो जाता है। इसी को ध्यान में रखते हुए हम आपको ऐसी कुछ बातें बताने जा रहे हैं, जिनकी बदौलत आप सही कार लोन प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं।

Car loan
Car loan

1. कार ऋण के लिए आवेदन करने से पहले अपनी क्रेडिट रिपोर्ट प्राप्त करें

लोन पर ब्याज दरें आय के स्रोत और क्रेडिट स्कोर जैसे मापदंडों द्वारा तय की जाती हैं। यदि आपकी आय अधिक है लेकिन क्रेडिट स्कोर खराब है, तो आपकी लोन दर अभी भी अधिक हो सकती है। इसके लिए आपको जरूरत है, कि अपना क्रेडिट स्कोर हमेशा सही रखें। क्योंकि 750 और उससे अधिक के क्रेडिट स्कोर वाले लोगों के पास आमतौर पर लोन प्राप्त करने की संभावना अधिक होती है।

Car loan
Car loan

2. ब्याज दरों और शुल्कों को जानें

वर्तमान में कार लोन के लिए कई विकल्प मौजूद हैं। इसलिए, आप अपने पसंदीदा उधारदाताओं से अपने विकल्पों की तुलना करने के लिए ऑनलाइन मदद ले सकते हैं। ज्यादातर मामलों में एक कार लोन 7 साल तक लंबा हो सकता है, और इस पर लोन लेने वाले व्यक्ति को ज्यादा ब्याज देना होता है। इसलिए आप पूरी लोन अवधि के दौरान क्या भुगतान करेंगे यह भी मायने रखता है। अपनी ब्याज दर और लोन अवधि के बारे में गहराई से आंकलन करें।

3. प्रीपेमेंट या फोरक्लोज़र शुल्क देखें

आमतौर पर ऋणदाता निश्चित ब्याज दर पर पेश किए गए कार लोन के प्रीपेमेंट करने पर शुल्क लेते हैं। जो बकाया ऋण का 5-6% तक होता है। वहीं कुछ फाइनेंस कंपनी और बैंक लोन अवधि के दौरान राशि और पूर्व भुगतान की संख्या को भी सीमित करते हैं। इसलिए, यदि आप निश्चित दर कार ऋण का विकल्प चुन रहे हैं, तो प्रीपेमेंट या फोरक्लोज़र शुल्क पर जरूर गौर करें।

News Source – Dainik Jagran

#kukrukoo

 

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like