kukrukoo
A popular national news portal

Ashwini Vaishnaw देश के नए रेल मंत्री, जानिए और किसको क्या मिला

Ashwini Vaishnaw. Image Source- TV 9 BharatVarsh
Ashwini Vaishnaw. Image Source- TV 9 BharatVarsh

कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी लहर में मची तबाही की वजह से हर्षवर्धन से छिना स्वास्थ्य मंत्रालय अब मनसुख मांडविया को दिया गया है। गुजरात से आने वाले मनसुख के पास केमिकल और फर्टिलाइजर मंत्रालय भी रहेगा। वहीं, अश्विनी वैष्णव को देश का नया रेल मंत्री बनाया गया है।

इसके अलावा वह आईटी मंत्री भी होंगे। रेल मंत्री का जि्म्मा अभी पीयूष गोयल के पास था, जिन्हें अब कपड़ा मंत्रालय दिया गया है। कपड़ा मंत्रालय संभाल रहीं स्मृति ईरानी को अब महिला एवं बाल विकास मंत्री बनाया गया है। शिक्षा मंत्रालय का जिम्मा धर्मेंद्र प्रधान को दिया गया है तो अब हरदीप सिंह पुरी पेट्रोलियम मंत्री बनाए गए हैं।

हर्षवर्धन के पास रहे विज्ञान मंत्रालय को पीएम मोदी ने अब अपने पास रखा है तो गृह मंत्री अमित शाह के पास अब मिनिस्टर ऑफ कोऑपरेशन का जिम्मा भी होगा। कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए मध्य प्रदेश के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को नागरिक उड्डयन मंत्रालय सौंपा गया है। भूपेंद्र यादव को श्रम मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है। इसके साथ ही पर्यावरण मंत्रालय का प्रभार भी उनके पास रहेगा। यह मंत्रालय अब तक संतोष गंगवार के पास था, जिन्हें कैबिनेट से बाहर कर दिया गया है। अब तक वित्त राज्य मंत्री रहे अनुराग ठाकुर को कैबिनेट मंत्री के रूप में प्रमोट करते हुए सूचना व प्रसारण मंत्रालय दिया गया है। कभी खुद क्रिकेटर और क्रिकेट प्रशासक रहे ठाकुर को खेल मंत्री भी बनाया गया है।

प्रहलाद जोशी को कोयला और खनन मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। नारायण राणे को सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योग मंत्रालय दिया गया है। रामचंद्र प्रसाद सिंह को स्टील मंत्री बनाया गया है। लोजपा पर हाल ही में कब्जा जमाने वाले पशुपति कुमार पारस को फूड प्रोसेसिंग मिनिस्ट्री की जिम्मेदारी दी गई है। सर्बानंद सोनोवाल को बंदरगाह, जलमार्ग और आयुष मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है। आरके सिंह ऊर्जा मंत्री बने रहेंगे। हालांकि, पहले वह राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) थे और अब उनका दर्जा कैबिनेट मंत्री का हो गया है।

केंद्रीय मंत्रिपरिषद का बुधवार को फेरबदल और विस्तार किया गया। हर्षवर्धन, रमेश पोखरियाल निशंक, रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, डी वी सदानंद गौड़ा, संतोष गंगवार जैसे नेताओं की केंद्रीय मंत्रिमंडल से छुट्टी कर दी गई, जबकि मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनाने में मदद करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया और शिव सेना से भाजपा में आए नारायण राणे को कैबिनेट मंत्री पद से नवाजा गया।

मंत्रिपरिषद के इस विस्तार और फेरबदल में 36 नए चेहरों को शामिल किया गया है, जबकि सात वर्तमान राज्यमंत्रियों को पदोन्नत कर मंत्रिमंडल में शामिल किया गया। सिंधिया और राणे सहित आठ नए चेहरों को भी कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन के दरबार हॉल में आयोजित एक समारोह में मंत्रिपरिषद में शामिल किए गए सभी 43 सदस्यों को पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई।

News Source- Hindustan

#kukrukoo

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like