बिहार चुनाव : कोरोना काल में जानिए कैसे होगा चुनाव प्रचार

सागर चौहान
नई दिल्ली। बिहार चुनाव का बिगुल बज चूका है लेकिन इस कोरोना काल के चुनावों में सब कुछ बदला-बदला सा नज़र आएगा। ना तो नेताओं की गाड़ियों की लम्बी कतारें नज़र आएगी और ना ही राजनितिक पार्टियों की रैलियों में लोगो के हुजूम लगेंगे। अब राजनितिक दलों द्वारा पहले की तरह किए जाने वाले शक्ति प्रदर्शन का हक़ भी चुनाव आयोग ने छीन लिया है और एक नई गाइडलाइन के साथ मैदान में उतरने का आदेश दिया है, तो आइए जानते है क्या नया है और कैसे इन पाबंदीयों के बीच चुनाव प्रचार होगा|

नामांकन की प्रक्रिया इस बार कैसी होगी?
नामांकल फार्म ऑनलाइन मुहैया कराए जाएंगे। उम्मीदवार इसे ऑनलाइन ही भर सकेंगे। उसका प्रिंट उन्हें चुनाव अधिकारी को सौंपना होगा। एफिडेविड भी ऑनलाइन दाखिल किया जा सकता है ।उसका प्रिंट अपने पास रखा जा सकता है । नोटराइजेशन के बाद उसे नॉमिनेशन के साथ चुनाव अधिकारी को सौंपा जा सकता है ।उम्मीदवार जमानत की रकम ऑनलाइन जमा कर सकेंगे कैश देने का विकल्प भी मौजूद रहेगा। नामांकन फार्म सौंपने के समय उम्मीदवार के साथ दो से ज्यादा लोग नहीं जा सकेंगे, उन्हें दो से ज्यादा गाड़ियां ले जाने की इजाजत भी नहीं होगी।

कैसे राजनितिक दल प्रचार करंगे?

.राजनितिक दल ऑनलाइन एवं वर्चुअल रैली कर सकेंगे |
.कोई भी नेता घर-घर प्रचार करते वक्त सुरक्षाकर्मी समेत सिर्फ पांच लोग अपने साथ ले जा सकेंगे और सिर्फ दो गाड़ियां साथ ले जाने की अनुमति रहेगी |

.नामांकन के समय पहले की तरह भीड़ इखट्टी नहीं कर सकेंगे फॉर्म जमा करते समय सिर्फ दो लोग साथ रहेंगे |

सभी दलों ने कोरोना के बीच प्रचार के अपने खुद के तरिके निकाल लिए है |

सभी ने अपने अपने चिन्हों की छपाई के साथ मास्क बनवाये है और उनको शहर भर अपने कार्यकर्ताओं से बटवाया जा रहा है |
लेकिन इस बार प्रचार के मामले में छोटे दल पीछे रह सकते हैं। भाजपा और कांग्रेस जैसी पार्टियों के पास अधिक पैसा और स्त्रोत है और वह बड़ी बड़ी चुनावी रैली और अपना प्रचार टेलीविज़न, सोशल मीडिया पर भी आसानी से करा सकेंगे, लेकिन छोटे दलों के बस में ये नहीं रहेगा|

Bihar ChunavBihar ElectionBJPJDUबिहार चुनाव