kukrukoo
A popular national news portal

सोनू सूद बोले, ‘दो पार्टियों ने ऑफर की थी राज्यसभा की सीट’

Sonu Sood said, 'Two parties had offered Rajya Sabha seat'

हाल ही में आयकर विभाग ने सोनू सूद (Sonu Sood) के मुंबई स्थित घर और ऑफिस की तलाशी ली थी। आईटी विभाग सोनू के 6 परिसरों पर यह कार्रवाई की थी। जिसके बाद जारी किए गए बयान में कहा गया कि सोनू सूद और उनके सहयोगियों ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की है। विभाग ने भी यह आरोप लगाया कि जब सोनू सूद और उनसे जुड़े लखनऊ स्थित ग्रुप के परिसरों पर छापा मारा गया तो यह पाया गया कि उन्होंने अपनी बिना हिसाब की आय को कई फर्जी संस्थाओं से फर्जी असुरक्षित ऋण के रूप में दिखाया है।

क्या कहा है सोनू सूद ने?
इसके बाद सोनू सूद ने ट्विटर पर अपनी बात रखते हुए कहा कि हर बार आपको अपनी तरफ की स्टोरी नहीं बतानी पड़ती है। वक्त बताएगा। कर भला, हो भला, अंत भले का भला। मेरा सफर जारी रहेगा। जय हिंद।

एक निजी इंटरव्यू में सोनू सूद ने खुलासा किया है कि उन्हें दो पार्टियों की तरफ से राज्यसभा की सीट ऑफर की गई थी लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया। सोनू सूद ने कहा है, उन्होंने जो भी दस्तावेज मांगे, हमने दिया। उन्होंने जो भी सवाल पूछे, मैंने उसके जवाब दिए। मैंने अपना काम किया, उन्होंने अपना। उन्होंने जो भी सवाल उठाए, हमने उनके हर एक का जवाब दस्तावेजों के साथ दिया। यही मेरा कर्तव्य है। हम अभी भी उन्हें दस्तावेज उपलब्ध करा रहे हैं।

सोनू सूद कहते हैं, मेरे पास दान में मिले एक-एक पैसे का हिसाब है। इसके अलावा सोनू सूद ने आयकर विभाग के आरोपों से भी इनकार किया है। बता दें आयकर विभाग ने कहा है कि सूद ने FCRA कानून का उल्लंघन करते हुए विदेशी दानदाताओं से एक क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग कर  2.1 करोड़ रुपये जुटाए हैं।

सोनू ने आगे कहा, यह बहुत आश्चर्य की बात है। मुझे जो कुछ मिला है वह केवल लोगों द्वारा दान किया गया धन नहीं है। उसका एक हिस्सा ब्रांड एंडोर्समेंट से मिलने वाली फीस भी है। मेरे पास अभी भी 54,000 नहीं पढ़े हुए मेल हैं, व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर पर हजारों संदेश हैं। 18 करोड़ रुपये खत्म करने में 18 घंटे भी नहीं लगेंगे। लेकिन मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि ये रुपये केवल जरूरतमंद व्यक्तियों को ही मिलें।

अवैध रूप से विदेशी धन प्राप्त होने के आरोप पर सोनू ने कहा, मैंने अपने खाते में एक भी डॉलर नहीं लिए हैं, ये पैसा सीधे जरूरतमंदों तक पहुंचा है।कुछ पार्टियों ने इस छापेमारी को आम आदमी पार्टी (आप) के साथ हुए हालिया सहयोग से जोड़कर देखा है, इस सवाल पर सोनू कहते हैं ‘मैं आप के साथ जुड़ने नहीं जा रहा हूं। आप मुझे किसी भी राज्य में बुला लीजिए- कर्नाटक, गुजरात। मैं तुरंत जाऊंगा। मैंने सभी राज्यों में काम किया है- जिन राज्यों में बीजेपी, कांग्रेस की सरकार है…

#kukrukoo

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.