kukrukoo
A popular national news portal

इन राज्‍यों में होने वाली है मूसलाधार बारिश, मौसम विभाग ने जारी की ये चेतावनी

देश में इन दिनों भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग (IMD) ने मानसून पर नया अपडेट जारी किया है। मौसम विभाग के ताजा अपडेट के मुताबिक गुजरात, महाराष्‍ट्र, मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कई जिलों में मूसलाधार बारिश होने की संभावना है। जबकि उत्‍तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कोस्‍टल कर्नाटक, तमिलनाडु के कई जिलों में सामान्य से मध्यम और भारी बारिश होने का पूर्वानुमान है।

गुजरात के सौराष्‍ट्र क्षेत्र खासकर राजकोट और जामनगर में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। मौसम विभाग ने यहां भारी बारिश की चेतावनी दी। मौसम विभाग की ओर से मध्‍य प्रदेश,छत्‍तीसगढ़ और राजस्थान में भी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक दिल्‍ली-एनसीआर और आसपास के इलाके में गरज के साथ हल्‍की बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान मुंबई, ठाणे, पालघर और रायगढ जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना जताई है।
पिछले कई दिनों से देशभर में जगह-जगह सामान्य और मध्यम से लेकर भारी बारिश हो रही है। मौसम का ये मिजाज अगले चार से पांच दिनों तक ऐसे ही रहने की संभावना है। दरअसल मानसून अब अपने अंतिम पड़ाव पर है और जमकर बारिश कर रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली एनसीआर समेत देश के कई हिस्सों में बारिश की संभावना बनी हुई है। इस दौरान तेज आंधी के साथ बारिश होगी और आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है।

मौसम विभाग (MID) के मुताबिक कम हवा का क्षेत्र लगातार बना हुआ है जिसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और अगले 48 घंटों के दौरान उत्तर ओडिशा-पश्चिम बंगाल तटों से दूर बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी के ऊपर एक डिप्रेशन में केंद्रित होने और बाद के 2-3 दिनों के दौरान उत्तर ओडिशा और उत्तरी छत्तीसगढ़ में पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है।

इसके साथ ही एक अन्य निम्न दबाव का क्षेत्र पूर्वी राजस्थान और आस-पड़ोस पर स्थित है, जो संबंधित चक्रवाती परिसंचरण के साथ मध्य क्षोभमंडल स्तर तक फैला हुआ है। कम दबाव का क्षेत्र और इसके अवशेष 3-4 दिनों के दौरान उसी क्षेत्र में बने रहने की संभावना है और अगले 4-5 दिनों के दौरान निम्न दबाव क्षेत्र और इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और इसके और तेज होने के कारण पश्चिमी तट के साथ निचले स्तर की पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने की संभावना है।

News Source ; News24 Hindi

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: