kukrukoo
A popular national news portal

सेना दिवस पर सेना प्रमुख ने कहा, ‘भारत हर स्तिथि के लिए तैयार’

सेना दिवस पर सेना प्रमुख ने कहा, ‘भारत हर स्तिथि के लिए तैयार’

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवने ने कहा कि भारतीय सेना किसी भी स्थिति के लिए तैयार है। भारत में 73 वे सेना दिवस मनाया जा रहा है। COAS जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने सैनिकों और उनके परिवारों को हार्दिक शुभकामनाएं दी और पहले भारतीय सेना प्रमुख को याद करने के लिए एक शक्तिशाली संदेश दिया,जिसने 15 जनवरी 1949 को अंग्रेजों का पद संभाला था।

देश की राजधानी में सेना दिवस का जश्न कारपप्पा परेड मैदान दिल्ली में चल रहा है। अपने भाषण में सेना के प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने कहा कि, मैं देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि बलवान के बहादुरों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

बता दूं , कि सीडीएस और सेना के तीनों प्रमुख जवानों को श्रद्धांजलि दी गई और तमाम सैनिक जिन्होंने देश की सुरक्षा हेतु अपनी जान कुर्बान कि, उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दी गई। नरवाने ने कहा, कि भारतीय सेना सीमाओं की रक्षा करने में बिल्कुल सक्षम है। मौसम की चुनौतियों के बावजूद जवानों का मनोबल पर्वत से भी ऊंचा खड़ा है।

आखिर क्यों मनाया जाता है 15 जनवरी को सेना दिवस
हर साल भारतीय सेना 15 जनवरी को सेना दिवस मनाते हैं, क्योंकि इसी दिन यानी 15 जनवरी 1949 को भारतीय सेना का पहला प्रमुख लेफ्टिनेंट मिला था। यह लेफ्टिनेंट जनरल के एम करिअप्पा ने भारत के पहले ब्रिटिश कमांडर इन चीफ जनरल सर फ्रांसिस से भारतीय सेना के पहले कमांडर इन चीफ के रूप में सशस्त्र बल की बागडोर संभाली। उन्होंने जय हिंद का नारा अपनाया जिसका अर्थ भारत के लिए विजय की प्राप्ति हो।

हर साल इस दिन विभिन्न विषयों और विचारों के साथ सेना दिवस मनाया जाता है। पिछले वर्ष डिफेंस का डिजिटल परिवर्तन भारतीय सेना दिवस 2020 था। इस वर्ष भारतीय सेना ने 1971 में पाकिस्तान पर भारत की शानदार जीत के लिए स्वर्णिम विजय वर्ष समारोह मनाने के लिए मैराथन विवरण का आयोजन किया गया। भारतीय सेना के विभिन्न सोशल मीडिया हैंडल पर परेड को लाइव देखा जा सकता है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like