kukrukoo
A popular national news portal

अपनी हर सीरीज़ से पहले नंगे पैर मैदान पर क्यों उतरना चाहती है आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम?

नई दिल्ली। ऐसा शायद क्रिकेट के इतिहास में पहली बार देखा जाएगा, जब एक क्रिकेट टीम मैच से पहले नंगे पैर मैदान पर उतरेगी और ऐसा करने के पीछे बहुत ही अहम कारण है।

कौन है वो टीम और क्या है खास मकसद?

आस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम ने हर सीरीज़ से पहले नंगे पैर मैदान पर उतरने का फैसला किया है और इस फैसले के पीछे का मकसद बेहद खास है। नस्लवाद के खिलाफ एकजुट खड़े होने के लिए आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम ने यह कदम उठाने का फैसला लिया है।

सबसे अहम बात यह है कि भारत के खिलाफ 27 नवंबर से शुरू होने वाली वनडे सीरीज़ से आस्ट्रेलियाई टीम इस पहल की शुरुआत करेगी। उल्लेखनीय है कि 27 नवंबर को सिडनी में आस्ट्रेलिया और भारत के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज़ का पहला मैच खेला जाएगा।

इस फैसले के बारे में बेबसाइट ‘ईएसपीएन’ को बताते हुए आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के उप कप्तान पैट कमिंस ने कहा, “हमने नंगे पैर मैदान पर एक घेरा बनाकर खड़े होने का फैसला किया है। हमने हर सीरीज़ की शुरुआत से पहले ऐसा करने का फैसला लिया है और यह हमारे लिए काफी आसान फैसला था।”

आखिर इस फैसले पर कैसे पहुंची आस्ट्रेलियाई टीम?

कमिंस ने कहा कि हर खिलाड़ी का नस्लवाद के खिलाफ आपत्ति जताने के लिए अपना व्यक्तिगत तरीका अपनाने का अधिकार है। इसमें घुटने के बल बैठना भी एक तरीका था, लेकिन सभी ने नंगेपैर घेरा बनाकर खड़े होने के तरीके को अपनाने के लिए हामी भरी। यह मैदान पर और मैदान के बाहर नस्लवाद जैसे अपराध को संबोधित करने का सबसे बेहतरीन तरीका है।

कमिंस ने कहा, “जितना जल्दी आप इस पहल को अपनाने की कोशिश करते हैं, यह आपको उतना ही आसान फैसला लगता है। न एक खेल के तौर पर, बल्कि इंसानियत के तौर पर भी हम नस्लवाद के खिलाफ हैं।”

कमिंस का कहना है कि हम यह खुल कर कह सकते हैं कि नस्लवाद के खिलाफ हमने पहले ठीक तरह से अपनी आवाज़ नहीं उठाई और अब इसमें सुधार करना चाहते हैं। इसीलिए, इस पहल की शुरुआत कर रहे हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like